बुधवार, दिसम्बर 7Digitalwomen.news

Kathak Legendary Pandit Birju Maharaj passes away at age 83

नहीं रहे कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज, दिल्ली में 83 वर्ष की उम्र में ली अंतिम सांस

Kathak Legendary Pandit Birju Maharaj passes away at age 83
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नहीं रहें कथक सम्राट पद्म विभूषण से सम्मानित पंडित बिरजू महाराज

कथक सम्राट नर्तक पंडित बिरजू महाराज का कल रविवार देर रात हृदयाघात से निधन हो गया। पद्म विभूषण से सम्मानित 83 वर्षीय बिरजू महाराज ने रविवार-सोमवार की दरमियानी रात दिल्ली में अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि बिरजू महाराज कल देर रात अपने पोते के साथ खेल रहे थे तभी उनकी तबीयत खराब हो गई और वे अचेत हो गए। उन्हें तुरंत साकेत के अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Kathak Legendary Pandit Birju Maharaj passes away at age 83

पंडित बिरजू महाराज के निधन की खबर से संगीत प्रेमियों में शोक की लहर छा गई। गायक मालिनी अवस्थी और अदनान सामी समेत कला, फिल्म व संगीत जगत की तमाम हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है।
पंडित बिरजू महाराज को 1983 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। उन्हें संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार और कालिदास सम्मान भी मिले थे। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय और खैरागढ़ विश्वविद्यालय ने बिरजू महाराज को डॉक्टरेट की मानद उपाधि भी दी थी।

बिरजू महाराज ने कई फिल्मों के लिए नृत्य संयोजन किया था जिसमें देवदास, डेढ़ इश्किया, उमराव जान और बाजी राव मस्तानी जैसी बड़ी फिल्में शामिल हैं। इसके अलावा इन्होंने सत्यजीत राय की फिल्म ‘शतरंज के खिलाड़ी’ में संगीत भी दिया था। उन्हें 2012 में ‘विश्वरूपम’ फिल्म में नृत्य संयोजन के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 2016 में बाजीराव मस्तानी के ‘मोहे रंग दो लाल’ गाने की कोरियाग्राफी के लिए उन्हें फिल्मफेयर पुरस्कार से नवाजा गया था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: