मंगलवार, जनवरी 18Digitalwomen.news

दून परेड ग्राउंड पर आज कांग्रेस की बारी, राहुल गांधी की रैली के साथ पार्टी करेगी चुनावी जंग का आगाज

Rahul Gandhi to address rally in Dehradun today

इसी महीने 4 दिसंबर, शनिवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के परेड ग्राउंड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हुई रैली के बाद कांग्रेस नेताओं ने भी कमर कस ली थी कि इसी मैदान पर हम भी होने वाले विधानसभा चुनाव का शंखनाद करेंगे। इसके लिए कांग्रेस ने शहर में जगह-जगह अपने पार्टी के पोस्टर-बैनर, झंडे लगा दिए हैं। कांग्रेस चाहती कि पीएम मोदी की हुई रैली से भीड़ अधिक दिखाई दी। विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच राहुल गांधी का आज उत्तराखंड का यह पहला दौरा है। जिससे कांग्रेसी नेता उत्साहित हैं। साथ ही साल 1971 में पाकिस्तान के साथ हुई लड़ाई में भारत को मिली शानदार विजय के भी आज 50 साल पूरे हो गए हैं। विजय उत्सव को कांग्रेस जोर-शोर से बना रही है। ‌पार्टी तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के योगदान को भी याद कर रही है। देहरादून के परेड ग्राउंड पर कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी आ रहे हैं। राहुल के दौरे को लेकर कई दिनों से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने राहुल गांधी की ऐतिहासिक रैली बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक रखी है। राहुल गांधी की रैली में भीड़ जुटाने के लिए कांग्रेसी नेताओं ने बड़ी तैयारी की । उत्तराखंड में कांग्रेस के मौजूदा और पूर्व विधायकों समेत केंद्र के नेताओं को भी यह जिम्मेदारी दी गई कि गांधी की रैली में उससे ज्यादा समर्थकों की भीड़ जुटाई जाए, जितनी बीते 4 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में जुटी थी। राहुल गांधी दोपहर करीब एक बजे परेड ग्राउंड पर एक जनसभा को संबोधित करने जा रहे हैं। राहुल गांधी जनसभा के साथ ही कांग्रेस विधानसभा चुनाव बिगुल भी फूंकेगी। बता दें कि कांग्रेस की ओर से परेड ग्राउंड में भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत की एतिहासिक विजय के उपलक्ष्य में जनसभा एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया है। यहां हम आपको बता दें कि साल 1971 में पाकिस्तान के साथ युद्ध में जीत की याद को ‘विजय दिवस’ के रूप में मनाया जाता है और 50 साल पूरे होने के मौके पर यह आयोजन कांग्रेस पार्टी करने जा रही है। ‌राहुल गांधी के दौरे को लेकर कांग्रेस के नेता उत्साहित हैं। हरीश रावत, गणेश गोदियाल और प्रीतम सिंह पिछले कई दिनों से जनसंपर्क में लगे रहे। नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि 16 दिसंबर 1971 के दिन को भला कौन भूल सकता है, जब तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के मजबूत नेतृत्व में व जनरल मानिकशॉ के कुशल अगुवाई में भारतीय सेना ने न केवल 90 हजार पाकिस्तानी सैनिकों को घुटनों के बल हाथ खड़ा कर आत्मसमर्पण के लिए मजबूर किया, बल्कि पाकिस्तान के दो टुकड़े कर नया बांग्लादेश बना दिया। प्रीतम सिंह ने कहा कि 16 दिसंबर को भारतीय सेना के जांबाजों को हमारे नेता राहुल गांधी सलाम करेंगे। राहुल गांधी आज दोपहर करीब एक बजे परेड ग्राउंड पहुंचेंगे और ‘विजय सम्मान रैली’ को संबोधित करेंगे। इस मौके पर राहुल गांधी 60 पूर्व सैनिकों को सम्मानित भी करेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: