रविवार, जनवरी 29Digitalwomen.news

बिहार विधान भवन परिसर में शराब की खाली बोतलें मिलने के बाद नीतीश सरकार बैकफुट

बिहार में शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन विधान भवन परिसर में शराब की खाली बोतलें मिलने के बाद राज्य की सियासत गरमा गई है। ‌राष्ट्रीय जनता दल के साथ भाजपा के भी नेता नीतीश सरकार पर सवाल उठा रहे हैं। खुद तेजस्वी यादव मौके पर पहुंचकर सरकार के खिलाफ मिले मुद्दे को भुनाने में जुट गए। तेजस्वी यादव इस मामले में मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांग रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार साफ कर चुके हैं कि वे शराबबंदी पर पीछे नहीं हटेंगे। हाल ही में उन्होंने सख्त लहजे में कहा था कि प्रदेश में शराबबंदी को लेकर कोई भी समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा था, बिहार में शराबबंदी कानून को सफल बनाने के लिए जो भी करना पड़े, वो करेंगे। लेकिन विधान भवन परिसर में शराब की बोतल मिलने के बाद विपक्ष नीतीश सरकार के पीछे पड़ा हुआ है। शराब पर चल रही सियासत नए मोड़ पर आ गई है। जिस तरह से बीजेपी विधायकों के बयान सामने आ रहे हैं, उससे तो ये साफ है कि शराबबंदी के बहाने बीजेपी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अंदर ही अंदर घेरने की कोशिश कर रही है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बिहार विधानसभा के अंदर शराब की बोतल कहां से आई? मुख्यमंत्री को खुद मुआयना करना चाहिए। शराब माफिया के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तस्वीर हमने देखी है। नीतीश कुमार के मंत्रियों को अपराध करने की छूट है। तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

Leave a Reply

%d bloggers like this: