शनिवार, नवम्बर 27Digitalwomen.news

SP rebel candidate Nitin Agarwal elected Deputy Speaker of UP Assembly

सपा के बागी विधायक और भाजपा समर्थित नितिन अग्रवाल डिप्टी स्पीकर चु

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले आज योगी सरकार के लिए सियासी दृष्टि से अच्छा दिन रहा। पिछले कई दिनों से जारी भाजपा और समाजवादी पार्टी के बीच डिप्टी स्पीकर के पद को लेकर खींचतान मची हुई थी। जिसमें योगी सरकार ने बाजी अपने नाम कर ली। सोमवार शाम को समाजवादी पार्टी के बागी विधायक और पूर्व मंत्री नरेश अग्रवाल के पुत्र नितिन अग्रवाल भाजपा के समर्थन से विधानसभा के उपाध्यक्ष चुन लिए गए हैं। नितिन अग्रवाल को कुल 304 वोट मिले जबकि सपा के नरेंद्र वर्मा को 60 वोट मिले। विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने बताया कि कुल 368 वोट पड़े जिसमें 364 वोट वैध रहे और 4 वोट अवैध रहे। नितिन अग्रवाल को बीजेपी का समर्थन मिला हुआ है। सोमवार दोपहर लगभग 12 बजे मतदान शुरू हुआ जो दोपहर तीन बजे तक चला और करीब चार बजे परिणाम घोषित हुआ। विपक्षी बसपा और कांग्रेस के विधायकों ने चुनाव का बहिष्कार किया। वर्तमान में 403 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बीजेपी के 304 विधायक हैं और समाजवादी पार्टी के पास 49 विधायक हैं। भाजपा की सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) के 9 विधायक हैं। बता दें कि हरदोई सदर सीट से तीन बार के विधायक नितिन अग्रवाल अखिलेश यादव की सरकार में राज्य मंत्री थे। नितिन अग्रवाल अपने पिता नरेश अग्रवाल के साथ 2018 में भाजपा में शामिल हो गए। नितिन अग्रवाल की अयोग्यता की मांग वाली सपा की याचिका को हाल ही में खारिज कर दिया गया था और तकनीकी रूप से वह भाजपा में शामिल होने के बाद भी सपा के विधायक बने हुए हैं। डिप्टी स्पीकर के पद पर निर्वाचित हुए नितिन अग्रवाल उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में भाजपा वैश्य समुदाय को रिझाने के लिए उन्हें मैदान में उतारेगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: