मंगलवार, जनवरी 18Digitalwomen.news

Rains lash parts of Delhi NCR, IMD predicts heavy rainfall in other states

लौटा मानसून: संडे सुबह लोगों का बारिश से हुआ ‘सामना’, कई राज्यों में तीन दिनों तक मौसम का बिगड़ेगा मूड

आज संडे छुट्टी के दिन कई राज्यों में जब लोग सुबह उठे तब उनका ‘स्वागत’ बारिश ने किया। अचानक हुई बारिश से लोग ‘सहम’ गए। क्योंकि शनिवार को पूरे दिन ‘चटक’ धूप होने की वजह से लोगों को उम्मीद नहीं थी कि अगले दिन संडे की सुबह हमें ‘बिगड़ा’ हुआ मौसम देखने को मिलेगा। ‌खैर ! यह मौसम का मिजाज है, कहा नहीं जा सकता है कब बदल जाए। अभी दस दिन पहले ही देश से मानसून की ‘विदाई’ हुई थी। उसके बाद कई राज्यों में दिन में तेज धूप निकलने लगी। जिससे लोगों को दिन में ‘गर्मी’ का भी एहसास होने लगा। ‘नवरात्र और दशहरा तक सामान्य दिनों की तरह मौसम आगे बढ़ने लगा। 15 अक्टूबर, शनिवार को अचानक मौसम ने पलटी मारी। शाम होते-होते देश के अधिकांश राज्य बारिश और चक्रवाती हवाओं की चपेट में आ गए’। इसका सबसे अधिक असर केरल, तेलंगाना में दिखाई दिया। इन दोनों राज्यों में मूसलाधार बारिश और चट्टानें खिसकने से भारी तबाही हुई । मानसून को हम विदा कर चुके थे लेकिन वह फिलहाल कुछ दिनों के लिए फिर सक्रिय हो गया है। देश में एक बार फिर से बारिश का ‘कहर’ शुरू हो गया है। कई राज्यों में मौसम विभाग ने भारी बारिश का ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है। इसकी वजह दक्षिण ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश तट के पास कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। वहीं एक कम दबाव का क्षेत्र उत्तर-पश्चिम और इससे सटे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी पर बना है। अरब सागर में लो प्रेशर एरिया केरल तट पर पहुंच गया, जिससे दक्षिण और मध्य केरल में भारी बारिश हो रही है। बारिश के कारण त्रिवेंद्रम, कोल्लम, पदनमटिट्टा, कोट्टायम, इदुकी में नदियां, कैनाल उफान पर हैं। केरल में भारी बारिश के बाद 5 जिलों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। कोट्‌टायम, पथनमथिट्टा, एर्णाकुलम, इडुक्की और त्रिशूर में बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया,इसके अलावा 7 जिलों में ऑरेंज अलर्ट है। कोट्‌टायम जिले के कूटिकल में लैंडस्लाइड से 8 लोगों की मौत हो गई है। 14 लोग लापता हैं। केरल में बारिश की वजह से जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है। सीएम पिनराई विजयन ने स्थिति का जायजा लेने के लिए शाम को एक आपात बैठक बुलाई। राज्य के अधिकारियों ने राज्य के पहाड़ी इलाकों में रात के समय आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है। राज्य में भारी बारिश के बाद बाढ़ जैसी स्थिति के बीच केरल के छह जिलों में जारी रेड अलर्ट के मद्देनजर, दक्षिणी नौसेना कमान राहत और बचाव कार्यों में स्थानीय प्रशासन की सहायता के लिए तैयार है।

तीन दिनों तक कई राज्यों में बारिश दी गई चेतावनी, लोगों की दिनचर्या भी बिगड़ी-

भारतीय मौसम विभाग ने 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बारिश का अनुमान जताया । इसके साथ ही राज्य में बारिश का रेड और यलो अलर्ट भी जारी किया गया । इनमें केरल, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, बिहार, पंजाब, तेलंगाना, ओडिशा, छत्तीसगढ़, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख आदि शामिल हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि 19 अक्टूबर तक बारिश होने की संभावना है। दिल्ली-एनसीआर में भी बारिश हो रही है। उत्तराखंड में मौसम विभाग ने 17 और 19 अक्टूबर के बीच बारिश होने की चेतावनी जारी की । राजधानी देहरादून में सुबह से ही बारिश शुरू हो गई है। राज्य में भारी वर्षा ओलावृष्टि आकाशीय बिजली गिरने और तेज हवाएं चल सकती हैं। मौसम विज्ञान विभाग की तरफ से जारी चेतावनी के बाद राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने भी राज्य के सभी जिला अधिकारियों को चेतावनी जारी करते हुए सावधानियां रखने के निर्देश दिए गए हैं। 3 दिनों तक पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश होने की संभावना है। वहीं हिमाचल प्रदेश में भी बारिश रविवार सुबह से बारिश हो रही है। 17 और 18 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़ और ईस्ट राजस्थान में भी बारिश के हालात बने हुए हैं और कहीं हो भी रही है। कुछ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बारिश और आंधी-तूफान की आशंका जताई गई है। जम्मू कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश में भी मौसम बुरी तरह बिगड़ा हुआ है । मौसम के बिगड़े मिजाज और बिन मौसम की बारिश ने देशवासियों की दिनचर्या भी प्रभावित कर दी है। इस बारिश के बाद ठंड भी बढ़ जाएगी। देश में दो या तीन दिन ऐसे ही हालात बने रहेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: