शुक्रवार, अक्टूबर 22Digitalwomen.news

World Tourism Day 2021 – Incredible India

देश की खूबसूरत वादियां और धार्मिक स्थल दुनिया के सैलानियों के बने आकर्षण का केंद्र

भारत समेत दुनिया भर में विश्व पर्यटन दिवस धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। हर साल 27 सितंबर को इस दिवस पर कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। हमारा देश भी पर्यटन के क्षेत्र में दुनिया को आकर्षित करता रहा है। विदेशी सैलानियों के लिए भारत पसंदीदा जगह रही है। देश के सभी राज्यों में सैलानियों के लिए पर्यटन के क्षेत्र में देखने के लिए कुछ न कुछ जरूर है। भारत में पर्यटक पूरी दुनिया से आते हैं, कोई इतिहास समझने आता है तो कोई आध्यात्मिक शांति के लिए, किसी को प्रकृति भाती है तो किसी को यहां का वातावरण। भारत की सांस्कृतिक और सामाजिक विविधताएं और प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर भूगोल उसे पर्यटन के रूप में भी समृद्ध बनाता है। ऊंचे पहाड़, पठार, रेगिस्तान, नदियां, समुद्री तट और हिमालय की तराई में फैला हुआ इलाका भारत की पर्यटन संपदा है। देश में मौजूद सांस्कृतिक विशेषताएं, विविध सभ्यताओं के ऐतिहासिक स्मृति चिह्न यहां के पर्यटन को भी विकसित करते हैं। भारत में पर्यटन क्षेत्र कई हिस्सों में विभाजित है जैसे स्वास्थ्य पर्यटन, आध्यात्मिक पर्यटन, योग पर्यटन, रोमांच पर्यटन आदि ने सफलतापूर्वक बड़ी संख्या में दुनिया के हर हिस्से से पर्यटकों को आकर्षित किया है। कई पर्यटक इसकी सही कीमत के साथ आयुर्वेदिक, यूनानी और एलोपैथी जैसी चिकित्सा की विस्तारित शाखाओं के कारण अपने मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए भारत का विकल्प चुनते हैं। जबकि योग वर्तमान में पर्यटन का प्रभावशाली क्षेत्र साबित हुआ है जो भारत में पर्यटकों को पसंद आती है। देश में जब भी कोई उत्तर से दक्षिण की ओर यात्रा करता है, तो जातीयता, संस्कृति, विरासत आदि हर किलोमीटर के साथ बदलते रहते हैं। इसकी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के साथ-साथ परिदृश्य और समुद्री दृश्य देश को शेष एशियाई महाद्वीप से अलग बनाते हैं। बता दें कि विश्व पर्यटन दिवस 2019 का समारोह दिल्ली में हुआ था। भारत ने अपनी भौगोलिक विशेषताओं के कारण पहली बार विश्व पर्यटन दिवस की मेजबानी की थी। भारत अपनी विविधता के लिए प्रसिद्ध है और पर्यटकों को विभिन्न व्यंजनों, एडवेंचर प्लेसेस, संगीत, इतिहास, भाषाओं आदि की पेशकश करने की क्षमता रखता है।

कश्मीर, उत्तराखंड-हिमाचल के पर्यटन स्थल पर्यटकों की पसंदीदा जगह–

World Tourism Day 2021 – Incredible India

कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता है, यहां की हरी-भरी वादियां देश और दुनिया भर के पर्यटकों को लुभाती रहीं हैं। ऐसे ही उत्तराखंड और हिमाचल में आध्यात्म के साथ पहाड़ों और नदियों के प्राकृतिक नजारे मन को सुकून देते हैं। तभी इन दोनों राज्यों को ‘देवभूमि’ भी कहा जाता है। उत्तराखंड में पर्यटन को नई पहचान देने के लिए सरकार ने 13 जिलों में थीम आधारित 13 नए टूरिस्ट डेस्टिनेशन विकसित करने की योजना शुरू की है। योजना का उद्देश्य प्रत्येक जिले में थीम आधारित पर्यटन विकास को बढ़ावा देकर पर्यटकों को उत्तराखंड के प्रति आकर्षित करना है। उत्तराखंड प्रमुख रूप से अपने तीर्थ स्थलों के लिए जाना जाता है। ये भारत के उत्तरी भाग में स्थित है और हर साल बड़ी संख्या में तीर्थयात्री यहां आते हैं। उत्तराखंड हिमालय की गोद में बसा है। देहरादून, नैनीताल, हरिद्वार, ऋषिकेश इसके प्रसिद्ध पर्यटन स्थल हैं । नैनीताल झील, बद्रीनाथ मंदिर, हर की पौड़ी चंडी देवी मंदिर, फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान, राजाजी राष्ट्रीय उद्यान, नैनी पीक, केदारनाथ मंदिर, राम झूला, लक्ष्मण झूला, केम्प्टी फॉल्स, जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क और ऐसे कई अन्य आकर्षण उत्तराखंड के अपने दौरे के दौरान पर्यटकों द्वारा अक्सर देखा जाता है। वहीं हिमाचल में प्राकृतिक सुंदरता का भंडार है। यहां प्रकृति के बीच शांतिपूर्ण पल बिताने के लिए विदेशों से पर्यटक आते हैं। इसमें मनमोहक घाटियां हैं जो मनोरम दृश्य प्रस्तुत करती हैं। कुल्लू, मनाली, शिमला, मसूरी, चंबा, धर्मशाला, डलहौजी, कांगड़ा, कसौली, हमीरपुर, सोलन, ऊना और कुछ प्रमुख आकर्षणों में रोहतांग पास, सोलंग घाटी, कांगड़ा घाटी और जाखू शामिल हैं। ऐसे ही जम्मू-कश्मीर की प्राकृतिक सुंदरता पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देती है। इसमें कई खूबसूरत पर्यटक स्थल और आकर्षण हैं, जिनमें श्रीनगर, गुलमर्ग, उधमपुर, कुपवाड़ा, कारगिल, सोनमर्ग, , पहलगाम, आदि शामिल हैं। इसके साथ गोवा, पुडुचेरी, केरल, तमिलनाडु, अंडमान निकोबार, लक्ष्यदीप, दमन, राजस्थान, गुजरात, नॉर्थ ईस्ट, आगरा का ताजमहल, मुंबई आदि स्थानों पर सैलानियों की साल भर भीड़ रहती है। इसके अलावा धार्मिक दृष्टि से रामेश्वरम, वैष्णो देवी, तिरुपति बालाजी, वाराणसी, सारनाथ, मथुरा-वृंदावन और शिर्डी के साईं बाबा आदि ऐसे तीर्थ स्थल हैं, जहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: