शुक्रवार, अक्टूबर 22Digitalwomen.news

त्रिवेंद्र-हरक में जुबानी जंग पर प्रभारियों ने ‘मिशन 22’ के लिए एकजुटता की दी नसीहत

देहरादून में भाजपा कोर कमेटी की आयोजित बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के बीच ‘गधा ढेंचा’ को लेकर जारी जुबानी जंग का मसला भी पार्टी के नेताओं ने उठाया। बता दें कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारियों का जायजा लेने गुरुवार को चुनाव प्रभारियों की टीम राजधानी देहरादून पहुंची थी। शुक्रवार को आयोजित बैठक में केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के उत्तराखंड चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी, सहप्रभारी और बंगाल की भाजपा की संसद लाकेट चटर्जी व सरदार आरपी सिंह पार्टी में नेताओं को अनुशासन बनाए रखने की नसीहत दी। कोर कमेटी की बैठक मेंं अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर मंथन किया गया। इस बैठक में विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी के नेताओं को बयानबाजी से बचने की नसीहत दी गई। इसके साथ चुनाव प्रभारियों ने कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता के लिए कोई जगह नहीं है। इसके साथ बीजेपी की हुई इस कोर कमेटी की बैठक में एक दिशा-एक संकल्प के तहत चुनाव को लेकर चर्चा की गई। केंद्रीय मंत्री जोशी ने कहा कि सभी का एक ही लक्ष्य व संकल्प होना चाहिए कि विधानसभा चुनाव में पार्टी पिछली बार से अधिक सीटें जीतकर फिर से अगले साल सरकार बनाए। बैठक में ‘एक दिशा-एक संकल्प’ के तहत आगामी विधानसभा चुनाव में जुटने की रणनीति पर भी मंथन हुआ। बैठक के बाद प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कोर कमेटी में कई अच्छे सुझाव आए हैं, जिन पर अमल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी पूरी तरह एकजुट है और एकजुट रहेगी। उन्होंने कहा कि बयानबाजी जैसा कुछ नहीं है। बैठक में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, प्रदेश सह चुनाव प्रभारी आरपी सिंह व लाकेट चटर्जी, केंद्रीय राज्यमंत्री अजय भट्ट, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा व त्रिवेंद्र सिंह रावत, सांसद तीरथ सिंह रावत, अजय टम्टा व माला राज्यलक्ष्मी शाह, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत व धन सिंह रावत, प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: