शुक्रवार, अक्टूबर 22Digitalwomen.news

Central Vista Development: Prime Minister Narendra Modi inaugurates new Defence Ministry offices today

पीएम मोदी सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के अंतर्गत बनाए गए रक्षा मंत्रालय के दो दफ्तरों का किया उद्घाटन

Central Vista Development: Prime Minister Narendra Modi inaugurates new Defense Ministry offices today

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रक्षा मंत्रालय के दो नए कार्यालयों का उद्घाटन किया। ये रक्षा कार्यालय परिसर दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग और अफ्रीका एवेन्यू में हैं। आज के इस उद्घाटन कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, आवास और शहरी कार्य राज्य मंत्री कौशल किशोर, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल विपिन रावत और सशस्त्र बलों के प्रमुख शामिल रहे।

पीएम मोदी ने इस अवसर पर अधिकारियों को भी संबोधित किया जहाँ उन्होंने कहा कि आजादी के 75वें वर्ष में आज हम देश की राजधानी को नए भारत की आवश्यकताओं और आकांक्षाओं के अनुसार विकसित करने की तरफ एक महत्वपूर्ण कदम बढ़ा रहे हैं। नया डिफेंस ऑफिस कॉम्प्लेक्स हमारी सेनाओं के काम काज को अधिक सुविधाजनक, अधिक प्रभावी बनाने के प्रयासों को और सशक्त करने वाला है।

Prime Minister Narendra Modi inaugurates new Defence Ministry offices today

पीएम मोदी ने कहा कि आज जब भारत की सैन्य ताकत को हम हर लिहाज से आधुनिक बनाने में जुटे हैं, आधुनिक हथियार से लेस करने में जुटे हैं, सेना की जरूरत की खरीद तेज हो रही है, तब देश की रक्षा से जुड़ा कामकाज दशकों पुराने तरीके से हो, ये कैसे संभव हो सकता है?
पीएम मोदी ने कहा कि अब केजी मार्ग और अफ्रीका एवेन्यु में बने यह आधुनिक ऑफिस, राष्ट्र की सुरक्षा से जुड़े हर काम को प्रभावी रूप से चलाने में बहुत मदद करेंगे। राजधानी में आधुनिक डिफेंस एन्क्लेव के निर्माण की तरफ ये बड़ा कदम है।

वहीं पीएम मोदी ने सेंट्रल विस्टा के आलोचकों पर निशाना साधते हुए कहा की जो लोग सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के पीछे डंडा लेकर पड़े थे, वे इन प्रोजेक्ट पर बिल्कुल चुप रहते थे, जबकि ये भी सेंट्रल विस्टा का ही हिस्सा है। पीएम ने कहा कि 7,000 से अधिक सेना के अफसर  यहां काम करते हैं और अब उनके लिए नई व्यवस्था बनाई गई है।

बता दें कि आज उद्घाटन किए गए दोनों दफ्तर की इमारतें सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के पहले चरण के तहत तैयार किया गया है।  इससे पहले रक्षा मंत्रालय का मुख्य दफ्तर साउथ ब्लॉक के पास था, जबकि बाकी दफ्तर इधर-उधर थे। लेकिन इन्हें अब इन दो इमारतों में समाहित कर दिया जाएगा। दोनों  ही इमारतें अब बनकर पूरी तरह तैयार हैं। अगले कुछ महीनों में कर्मचारी इनमें शिफ्ट हो जाएंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: