सामग्री पर जाएं

अगवा किए 150 भारतीयों को तालिबान ने छोड़ा, इन सभी की जल्द होगी वतन वापसी

All Indians in Kabul safe

तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद राजधानी काबुल एयरपोर्ट पर सात दिनों से अफरा-तफरी का माहौल है । यहां कई देशों के लोग अपने वतन वापसी के लिए दिन-रात भूखे प्यासे बैठे हैं। इस बीच वहां तैनात अमेरिकी सैनिक सभी देशों के लोगों की मदद कर रहे हैं। अभी भी अफगानिस्तान में सैकड़ों भारतीय फंसे हुए हैं । जिनमें कुछ लोगों को काबुल एयरपोर्ट पर लाया गया है। दूसरी तरफ शुक्रवार रात तालिबान लड़ाकों ने 150 भारतीयों का अपहरण कर लिया था, उन्हें अब रिहा कर दिया गया है। यह सभी हवाई अड्डे पर भारत आने के लिए इंतजार कर रहे हैं। बता दें कि तालिबानी अपहरणकर्ताओं ने करीब 150 लोगों को पकड़ लिया था । अपहरण किए गए ज्‍यादातर लोग भारतीय थे लेकिन उनके साथ अफगान नागरिक और अफगानिस्‍तान में रहने वाले सिख भी शामिल हैं। अगवा करने वालों ने कहा अब इन लोगों को फिलहाल काबुल एयरपोर्ट के करीब एक गैराज में रखा गया है। सभी भारतीय लोग वहां सुरक्षित हैं और अथॉरिटी लगातार लोगों के संपर्क में है। इन सभी लोगों की जल्द ही वतन वापसी होगी। बता दें कि अफगानिस्तान पर तालिबानियों के कब्जे के बाद वहां के हालात को देखकर भारत सरकार अपने नागरिकों को निकालने में जुटी हुई है। हालांकि अभी भी अफगानिस्तान में कई भारतीय फंसे हुए हैं। वहीं काबुल समेत दूसरे शहरों में अभी 1000 भारतीयों के और फंसे होने का अनुमान है। विदेश मंत्रालय इनकी लोकेशन और स्थिति का पता लगाने की कोशिश कर रहा है, क्योंकि सभी लोगों ने भारतीय दूतावास से संपर्क नहीं किया है। बता दें कि पिछले मंगलवार को 120 से ज्यादा लोगों की वतन वापसी हुई थी। इनमें काबुल स्थित भारतीय दूतावास के अधिकारी, आइटीबीपी के जवान और अन्य लोग शामिल थे। इससे पहले सोमवार को भी 45 लोगों को एयरलिफ्ट किया गया था।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: