सामग्री पर जाएं

Uttarakhand: BJP MP booked for violating SOPs inside Almora temple

यूपी भाजपा संसद के अल्मोड़ा में अमर्यादित बोल पर रिपोर्ट हुई दर्ज, करा बैठे फजीहत

Uttarakhand: BJP MP booked for violating SOPs inside Almora temple

माननीयों की धार्मिक या अन्य स्थलों पर अमर्यादित भाषा की सराहना कदापि नहीं की जा सकती है। संविधान के अनुसार आपका पद और दायित्व ‘गरिमा’ के खिलाफ जाने की इजाजत नहीं देते हैं। अब वह दौर नहीं रहा कि आप पब्लिक प्लेस पर कुछ भी बोल कर चले जाओगे। यह सोशल मीडिया का दौर है। यानी हर चीज ‘वायरल’ हो रही है। ऐसे ही एक जनता के सेवक धार्मिक धार्मिक स्थल पर अपना आपा खो बैठे। इसके बाद उन्होंने खुद अपनी ‘फजीहत’ कराई और पार्टी हाईकमान की भी ‘किरकिरी’ करा बैठे। मामला भाजपा के सांसद से जुड़ा हुआ है। आइए बात को आगे बढ़ाते हैं और पूरे सिलसिलेवार इस घटना को जानते हैं। उत्तर प्रदेश के बरेली के पास की संसदीय सीट ‘आंवला’ से बीजेपी सांसद धर्मेंद्र कश्यप शनिवार को देवभूमि के अल्मोड़ा स्थित जागेश्वर धाम में अपने दोस्तों के साथ दर्शन करने गए थे। दर्शन करने के दौरान वहां के पुजारियों और उनका किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस दौरान धर्मेंद्र कश्यप और उनके दोस्तों ने वहां मौजूद पुजारियों से से गाली-गलौज अभद्र भाषा का प्रयोग किया। उसी दौरान किसी ने सांसद धर्मेंद्र कश्यप को गाली गलौज देते हुए वीडियो भी बना लिया। जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ कुमाऊं मंडल में ‘आक्रोश’ फैल गया। बीजेपी सांसद के खिलाफ हजारों लोग एकजुट हो गए और कार्रवाई की मांग करने लगे। जागेश्वर धाम के स्थानीय लोग क्षेत्रीय कांग्रेस के विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल के साथ कश्यप के विरोध में रविवार को मंदिर परिसर में ‘उपवास’ पर बैठ गए । कुंजवाल ने कहा कि सांसद ने धार्मिक स्थल पर अभद्र भाषा का प्रयोग कर उसकी मर्यादा और गरिमा के विपरीत आचरण किया है। इसके लिए उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए। लोगों के बढ़ते दबाव के आगे आखिरकार प्रशासन भी बैकफुट पर आ गया। जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति के प्रबंधक भगवान भट्ट ने बताया कि घटना के बारे में उन्होंने अल्मोड़ा के जिलाधिकारी को अपनी शिकायत दी थी और उनके आदेश पर राजस्व क्षेत्र में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम सांसद अपने कुछ सहयोगियों के साथ पूजा-अर्चना के लिए जागेश्वर मंदिर पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि सांसद की पूजा समाप्त होने के बाद मंदिर प्रबंधन ने उन्हें मंदिर के शाम 6 बजे बंद होने की जानकारी देते हुए उनसे वहां से बाहर जाने का आग्रह किया। आरोप है कि इस बात पर सांसद भड़क गए और उन्होंने गाली-गलौज की, दोनों पक्षों के बीच विवाद बढ़ने पर सांसद वहां से चले गए। इस मामले में अल्मोड़ा एसडीएम मोनिका ने बताया कि उत्तराखंड के अल्मोड़ा में जागेश्वर धाम के पुजारियों के साथ कथित रूप से दुर्व्यवहार करने के आरोप में आंवला, उत्तर प्रदेश के भाजपा सांसद धर्मेंद्र कश्यप और उनके दोस्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। इस घटना के बाद राज्य में कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सांसद के बर्ताव की निंदा की है। वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा है कि किसी को भी धार्मिक स्थल पर ऐसी अमर्यादित भाषा शोभा नहीं देती है। वहीं रिपोर्ट दर्ज होने के बाद भाजपा सांसद धर्मेंद्र कश्यप की फिलहाल अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। लेकिन उनके इस आचरण ने उत्तराखंड से लेकर दिल्ली तक भाजपा हाईकमान की किरकिरी करवा दी है ।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: