सामग्री पर जाएं

पीएम मोदी की इस बार सीएम योगी के जन्मदिन पर ट्वीट के माध्यम से नहीं आई शुभकामना ?

आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन है। ‌ इस मौके पर राजनीति के विश्लेषक कई दिनों से प्रधानमंत्री की ओर टकटकी लगाए हुए थे कि योगी के जन्मदिन पर ट्विटर के माध्यम से पीएम मोदी ‘क्या बधाई संदेश देंगे’ ? ‌लेकिन खबर लिखे जाने तक प्रधानमंत्री ने सीएम योगी को ट्वीट करके शुभकामनाएं नहीं दी है। बता दें कि प्रधानमंत्री सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहते हैं। छोटे-छोटे मुद्दों पर वह हर रोज ट्वीट करते हैं। ‘यूपी के मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए योगी का पांचवीं बार जन्मदिवस का मौका आया है। इससे पहले चारों बार पीएम मोदी ट्वीट करके योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते रहे हैं’। यह पहली बार है जब प्रधानमंत्री ने योगी के जन्मदिन पर ट्वीट नहीं किया है? ‘इसके बाद लखनऊ से दिल्ली तक अटकलों का सियासी बाजार गर्म हो गया है’। हालांकि यह कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री ने योगी से फोन पर बात की है? ‘दूसरी ओर जब पीएम मोदी ने ट्वीट नहीं किया तो गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी योगी आदित्यनाथ को ट्विटर पर शुभकामनाएं नहीं दी हैं’?

वहीं योगी के जन्मदिवस पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि उत्तर प्रदेश के अत्यंत कर्मठ और लोकप्रिय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। प्रदेश के विकास और जन कल्याण के लिए वे समर्पित भाव से काम कर रहे हैं। उनके नेतृत्व में उत्तर प्रदेश उत्तरोत्तर प्रगति करे यही कामना है। ईश्वर उन्हें स्वस्थ रखें और दीर्घायु करें। दूसरी ओर राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने भी ट्वीट करके शुभकामनाएं दी है। वहीं उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा और केशव मौर्य ने सीएम योगी को ट्वीट कर बधाई दी। ऐसे ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी। इसी प्रकार उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत ने ट्वीट कर सीएम योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई दी। अमेठी से सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने लिखा है कि उत्तर प्रदेश को प्रगति एवं समृद्धि के पथ पर आगे बढ़ाने हेतु प्रतिबद्ध, यशस्वी मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं, आपके नेतृत्व में प्रदेश में चहुमुखी विकास की गति बनी रहे और आप स्वस्थ एवं दीर्घायु हों ऐसी ईश्वर से कामना करती हूं। उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी सीएम योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई दी, उन्होंने ट्वीट कर कहा कि प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए समर्पित, हिन्दू हृदय सम्राट, प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री पूज्य महंत श्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं, बाबा गोरक्षनाथ आपको स्वस्थ और दीर्घायु रखें। बसपा सुप्रीमो मायावती और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने भी मुख्यमंत्री योगी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी। ऐसे में पार्टी आलाकमान में ही अपने एक नेता को लेकर दरार साफ दिखती नजर आ रही है । दूसरी ओर यूपी सीएम पर जो एक चौंकाने वाला ट्वीट सामने आया, वह ‘भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी का जिन्होंने सीधे तौर पर लिखा कि जितना वो जानते हैं उस लिहाज से योगी एक सत्यनिष्ठ व्यक्ति हैं और कभी किसी की चापलूसी नहीं कर सकतेे’। यहां हम आपको बता दें कि भाजपा के सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस ट्वीट के सहारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना भी साधा है। यहां आपको एक बात और बता दें कि केंद्र सरकार और ट्विटर के बीच जंग छिड़ी हुई है ।‌ आइए अब योगी आदित्यनाथ के बारे में भी जान लिया जाए।

49 साल के हुए योगी का जन्म उत्तराखंड के पौड़ी जिले में हुआ था

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ का आज 49वां जन्मदिन है। योगी आदित्यनाथ का जन्‍म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के पंचूर गांव में हुआ था। नाथ सम्प्रदाय के अगुवा, गोरक्षपीठ के महंत योगी आदित्यनाथ ने लगातार पांच बार सांसद भी रह चुके हैं। योगी से यूपी की सत्ता के शीर्ष पर पहुंचने वाले योगी आदित्‍यनाथ का नाम अजय सिंह बिष्‍ट था। लेकिन नाथ सम्प्रदाय की ओर से दीक्षा लेने के बाद उन्होंने अपना नाम बदल लिया। इनके पिता का नाम आनंद सिंह बिष्‍ट और माता का नाम सावित्री देवी है। योगी कुल सात-भाई बहन हैं। योगी आदित्यनाथ ने हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी से गणित से बीएससी की है। 1993 में गणित में एमएससी की पढ़ाई के दौरान गोरखपुर पहुंचे। गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ से दीक्षा लेकर घर को छोड़ दिया और योगी बन गए। ‘साल 1994 में दीक्षा के बाद वह योगी आदित्यनाथ बन गए थे। योगी हिंदू युवा वाहिनी संगठन के संस्थापक भी हैं, जो कि हिंदू युवाओं का सामाजिक, सांस्कृतिक और राष्ट्रवादी समूह है’। 1998 में महंत अवैद्यनाथ ने योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी बनाया और लोकसभा प्रत्याशी भी घोषित कर दिया। जिसके बाद हुए चुनाव में वह 26 साल की ही उम्र में सांसद का चुनाव जीतकर संसद पहुंचे। पहले ही चुनाव में जीत दर्ज करने वाले योगी आदित्यनाथ को सबसे कम उम्र में सांसद बनने का गौरव हासिल हुआ। बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने साल 1998, 99, 2004, 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में लगातार पांचवीं जीत हासिल की। साल 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली जीत के बाद उन्हें मुख्यमंत्री चुना गया और 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। ‘पिछले कुछ दिनों से योगी अपने मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारी कर रहे हैं। लेकिन अभी उत्तर प्रदेश सरकार में फेरबदल की भाजपा हाईकमान ने हरी झंडी नहीं दिखाई है योगी सरकार में बदलाव की लखनऊ से लेकर दिल्ली तक संघ के नेताओं और भाजपा केंद्रीय नेतृत्व के बीच कई दिनों से बैठकों का दौर चल रहा है’ । उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव को लेकर माना जा रहा है कि योगी सरकार में ‘कई चेहरे बदले जाने हैं’।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: