सामग्री पर जाएं

After Health Minister Harsh Vardhan’s letter, Baba Ramdev issues apology

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के ख़त के बाद योग गुरु रामदेव बाबा ने वापस लिया अपना बयान, कहा किसी की भावना को आहत पहुंचती है तो मुझे खेद है।

कोरोना महामारी के बीच योगगुरु रामदेव के एलोपैथी डॉक्टरों पर दिए गए बयान ने विवाद बढ़ा दिया, जिसके बाद उन्होंने अपना वापस ले लिया है। उन्होंने डॉ. हर्षवर्धन के चिट्ठी पर ट्वीट करते हुए लिखा कि माननीय डॉ. हर्षवर्धन जी आपका पत्र प्राप्त हुआ, उसके संदर्भ में चिकित्सा पद्दतियों के संघर्ष के इस पूरे विवाद को खेदपूर्वक विराम देते हुए मैं अपना वक्तव्य वापिस लेता हूं और यह पत्र आपको संप्रेषित कर रहा हूं।

आपको बता दें की दरअसल बाबा रामदेव का एलोपैथी को बेवकूफी भरा बताने वाला एक वीडियो वायरल हुआ था। इसको लेकर डॉक्टरों ने आपत्ति जताई थी। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने इसको लेकर बाबा रामदेव को कानूनी नोटिस भी भेजा है। इसके बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी रविवार को बाबा को पत्र लिखकर बयान वापस लेने का आग्रह किया था। 
स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन के पत्र लिखने के बाद बाबा रामदेव ने पत्र लिखकर यह कहा कि हमारा कोई उद्देश्य हम आधुनिक चिकित्सा विज्ञान तथा एलोपैथी के विरोधी नहीं हैं। हम यह मानते हैं कि जीवन रक्षा प्रणाली तथा शल्य चिकित्सा के विज्ञान में एलोपैथी ने बहुत प्रगति की है और मानवता की सेवा की है। मेरा जो वक्तव्य कोट किया गया है वह एक कार्यकर्ता बैठक का वक्तत्व है। जिसमें मैंने आए हुए वॉटसएप मैसेज को पढ़कर सुनाया था, उससे अगर किसी की भावनाएं आहत हुईं, तो मुझे खेद है। 

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: