मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

कोरोना की स्थिति को देखते हुए केजरीवाल ने केंद्र से सीबीएसई की परीक्षाएं रद्द करने की अपील , कहा युवा सबसे ज्यादा प्रभावित

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की मौजूदा स्थिति पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 13,500 मामले सामनेे आए हैं।
यह मामले तो सिर्फ राजधानी दिल्ली के हैं लेकिन फिल्हाल कोरोना से देश की स्थिति भी काफी भयावह हो गई है। ऐसे में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने केंद्र सरकार सेअपील की है कि सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द कर दिया जाए। सीएम केजरीवाल ने परीक्षाओं को टालने की बात कही है कि इस बार की लहर में युवा और बच्चे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं। बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए बोर्ड परीक्षा रद्द की जाए। इसके लिए कोई और तरीका भी ढूंढा जा सकता है। या तो ऑनलाइन परीक्षा हो या कोई और रास्ता निकाला जाए। उन्होंने कहा, सीबीएसई की परीक्षा आने वाली है, जिसमें छह लाख बच्चे एग्जाम में बैठेंगे। एक लाख टीचर्स इसमें शामिल होंगे, ये बड़ा खतरा बन सकता है। केंद्र सरकार से अपील है कि सीबीएसई के एग्जाम कैंसिल करना जरूरी है।
बता दें कि कोरोना से देश की स्थिति को देखते हुए अरविंद केजरीवाल ने ही नहीं, राहुल गाँधी, प्रियंका गाँधी फिल्म अभिनेता सोनू सूद समेत कई लोगों ने स्थगित करने या दूसरे उपाय की बात कही है।

वहीं राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन की बात पर केजरीवाल ने यह कहा कि हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते। बड़ी प्लानिंग कर रहे हैं, बड़े बैंक्वेट और होटल को अटैच कर रहे हैं, कम बीमारी वाले मरीजों को बैंक्वेट हॉल में शिफ्ट करेंगे। किसी को ऑक्सीजन की जरूरत होगी, तो बैंक्वेट होल में भी इलाज हो सकता है। केजरीवाल ने बताया कि बेड की कैपेसिटी क्रिएट कर रहे हैं, कुछ सरकारी और प्राइवेट अस्पताल को 100 प्रतिशत कोविड डिक्लेयर किया है। सभी से सहयोग की अपेक्षा है। उम्मीद करता हूं कि अस्पताल वाले मदद करेंगे।
साथ हीं मुख्यमंत्री केजरीवाल ने लोगों को बढ़-चढ़कर पिछली बार की तरह प्लाज्मा डोनेट करने की बात कही है। इस बार फिर से स्टॉक में प्लाज्म कम है। रोजाना प्लाज्मा की डिमांड आ रही है। सभी से निवेदन है कि जो कोरोना से ठीक हुए हैं, वे प्लाज्मा डोनेट करें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: