मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

AICTE: Maths, physics not a must in Class 12 for joining engineering and technology

अब इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए गणित, भौतिक और रसायन विषय जरूरी नहीं, एआईसीटीई ने किये बड़े बदलाव

News
News

अब इंजीनियरिंग की चाह रखने वाले किसी भी विद्यार्थी को मैथ्स, फिजिक्स और केमिस्ट्री की खास स्ट्रीम से पढाई करने की आवश्यकता नहीं होगी बल्कि अब कोई भी स्ट्रीम के विधार्थी इंजीनियरिंग के दाखिले के लिए फॉर्म भर सकते हैं।
दरअसल अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने अब इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए अपने नियमों में संशोधन करते हुए बारहवीं कक्षा में गणित, भौतिक विज्ञान और रसायन विज्ञान विषय की पढ़ाई की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है। यह निर्णय “विविध पृष्ठभूमि” से इंजीनियरिंग के अध्ययन के लिए आने वाले छात्रों को राहत देने के लिए लिया गया है।
छात्रों को एआईसीटीई के संशोधित नियमों के अनुसार, इंजीनियरिंग के स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवेदन करने में सक्षम होने के लिए बारहवीं कक्षा में न्यूनतम 45 प्रतिशत अंकों की जरूरत होगी और 14 विषयों की सूची में से तीन विषयों में उत्तीर्ण होना आवश्यक होगा। संशोधित नियमों में तकनीकी नियामक ने 14 विषयों- भौतिकी, गणित, रसायन विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी, जीव विज्ञान, इनफॉर्मेटिक्स प्रैक्टिस, जैव प्रौद्योगिकी, तकनीकी व्यावसायिक विषय, इंजीनियरिंग ग्राफिक्स, व्यावसायिक अध्ययन, अंत्रप्रेन्योरशिप विषयों  को सूची में शामिल किया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: