बुधवार, नवम्बर 30Digitalwomen.news

निकाय चुनाव के बाद ‘आप’ को खूबसूरत लगने लगा सूरत, केजरीवाल पहुंचे रोड शो करने

Kejriwal Road show in Surat

आज बात होगी आम आदमी पार्टी की । पार्टी राजधानी दिल्ली से बाहर निकलने के लिए छटपटा रही है । हालांकि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में अपनी पार्टी को पूरे जोर-शोर के साथ मैदान में उतारने में लगे हुए हैं । आज चर्चा करेंगे पीएम मोदी के गृह राज्य की । पिछले दिनों गुजरात नगर निकाय के परिणामों से आम आदमी पार्टी उत्साहित है । देश का मेनचेस्टर कहे जाने वाले सूरत में आप को निकाय चुनाव में मिली सफलता के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सूरत पहुंच गए हैं । केजरीवाल आज इस शहर से एक लंबा रोड शो करने जा रहे हैं । पीएम मोदी के गृह राज्य गुजरात में केजरीवाल ने काफी समय से खुद ही कमान संभाल रखी है । पिछले दिनों गुजरात के 6 महानगर पालिकाओं में हुए निकाय चुनाव में सूरत ही एक ऐसा शहर रहा जहां आप को सफलता मिली है । महानगर पालिका में कुल 120 सीटों में से आप ने 27 सीटें जीती हैं और मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई है । जबकि कांग्रेस का यहां खाता भी नहीं खुला । शुक्रवार सुबह केजरीवाल के सूरत पहुंचने पर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता गदगद दिखाई दिए । केजरीवाल आज शहर में सात किलोमीटर लंबा रोड शो करेंगे । मालूम हो कि सूरत में भारतीय जनता पार्टी ने 120 में से 93 सीटों पर कब्जा किया था । निकाय चुनाव के नतीजों में सूरत की जनता ने कांग्रेस को साइड करके आम आदमी पार्टी पर भरोसा जताया है जिसके बल पर आप यहां मुख्य विपक्षी दल बनने में कामयाब हुई। गौरतलब है कि गुजरात में अगले साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं लेकिन आम आदमी पार्टी अभी से तैयारी में जुट गई है ।

गुजरात में आम आदमी पार्टी मुख्य विपक्षी दल बनना चाहती है—

आम आदमी पार्टी गुजरात में पिछले कई महीनों से सक्रिय है । इससे पहले भी अरविंद केजरीवाल और पार्टी के जुड़े कई नेताओं ने पीएम मोदी के ग्रह राज्य में दौरे किए थे । आम आदमी पार्टी की इस राज्य में पहली प्राथमिकता यह है कि विपक्षी दल कांग्रेस को हटाकर खुद विपक्ष की भूमिका में आना । निकाय चुनाव परिणामों के बाद आम आदमी पार्टी ने सूरत में कांग्रेस से यह तमगा फिलहाल छीन लिया है और वह निगम में भाजपा के साथ विपक्ष की भूमिका में तैयार है । 23 फरवरी को जब गुजरात के निकाय चुनाव परिणाम घोषित किए जा रहे थे तब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि आम आदमी पार्टी ने नगर निकाय चुनाव में 27 सीट हासिल कर सूरत में बीजेपी के किले में सेंध लगा दी, मैं दिल से गुजरात के लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं । सूरत के लोगों ने देश की पुरानी पार्टी कांग्रेस को खारिज करते हुए आम आदमी पार्टी को मुख्य विपक्षी दल की जिम्मेदारी दी है, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि गुजरात में नई राजनीति का दौर शुरू हुआ है। उन्होंने कहा कि हम गुजरात के लोगों के साथ मिलकर राज्य का चेहरा बदलेंगे। बता दें कि केजरीवाल भाजपा के ‘गुजरात मॉडल’ की गहराई नापने में काफी समय से लगे हुए हैं । फिलहाल आम आदमी पार्टी अपने ‘दिल्ली मॉडल’ को पूरे देश भर में ढिंढोरा पीट रही है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पार्टी के राज्य सभा सांसद संजय सिंह उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर भाजपा की सरकारों को चैलेंज करने में लगे हुए हैं ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: