गुरूवार, जुलाई 7Digitalwomen.news

Breaking News: Oscar winning actor Christopher Plummer dies at 91

नहीं रहे ऑस्कर विजेता क्रिस्टोफर प्लम्मर, 91 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

Christopher Plummer dies at 91

ऑस्कर पुरस्कार विजेता क्रिस्टोफर प्लमर का जन्म 13 दिसंबर, 1929 को टोरंटो में हुआ था। उन्होने एक स्टेज आर्टिस्ट के रूप में प्रशिक्षण लिया एवं वर्ष 1958 में अपनी फिल्म जगत की शुरुआत करते हुए, वह ब्रिटेन के राष्ट्रीय रंगमंच के तरफ अपना कदम बढ़ाया ।

पल्मर की जीवनशैली

Christopher Plummer

प्लमर का जन्म 13 दिसंबर, 1929 को टोरंटो, ओंटारियो में हुआ था।  वह जॉन ओरेम प्लमर एवं इसाबेला मैरी (नी एबॉट) की एकमात्र संतान थे। उनके पिता स्टॉक एजेंसीय में शेयर बेचते थे एवं माता मैकगिल विश्वविद्यालय में डीन ऑफ साइंसेज के सचिव के रूप में काम करती थीं। प्लमर के माता-पिता के जन्म के कुछ समय बाद ही उनका तलाक हो गया था। 1946 में, उन्होंने मॉन्ट्रियल हाई स्कूल प्रोडक्शन ऑफ प्राइड एंड प्रेज्यूडिस में श्री डार्सी के रूप में अपने प्रदर्शन के साथ मॉन्ट्रियल गज़ेट के थिएटर समीक्षक हरबर्ट व्हिटकर का ध्यान आकर्षित किया। व्हिटेकर मॉन्ट्रियल रिपर्टरी थिएटर के शौकिया मंच निर्देशक भी थे, और उन्होंने 18 साल की उम्र में जीन कोक्ट्यू की ला मशीन अवरेल में ओडीपस के रूप में प्लमर का अभिनय की काफी प्रशंसा हुई।

आर्थर क्रिस्टोफर ओरमे प्लमर को अपनी पीढ़ी के शीर्ष अभिनेताओं में से एक माना जाता है। वह एक बच्चे के रूप में मॉन्ट्रियल में बड़े हुए और उनकी मां ने उन्हें कम उम्र में ही कला के तरफ उनके झुकाव को समझा जिसके फलस्वरूप बचपन से हीं उन्हें कई नाटक और प्रदर्शन देखने को मिले। प्लमर ने अभिनय के लिए खुद को समर्पित करने से पहले सबसे पहले पियानो का अध्ययन किया। जैसा उसने खुद बताया था की नाटक में अभिनय करने से पहले मैंने कॉन्सर्ट पियानोवादक बनने के बारे में गंभीरता से सोचा था।


एक मंच अभिनेता के रूप में शास्त्रीय रूप से प्रशिक्षित, प्लमर की खोज अंग्रेजी निर्माता और निर्देशक ईवा ले गलीनी द्वारा की गई थी। उन्होंने 1954 में उन्हें अपनी पहली न्यूयॉर्क स्टेज भूमिका “द स्टारक्रॉस स्टोरी” में मैरी एस्टर के साथ काम किया । जबकि इस शो में केवल एक ही प्रदर्शन शामिल था, प्लमर जल्द ही अधिक मंचीय कार्य में उतर गये, बाद में ब्रिटेन के नेशनल थिएटर और रॉयल शेक्सपियर कंपनी के लिए सबसे प्रमुख कलाकार बने रहेकई टीवी भूमिकाओं के बाद, प्लमर ने अपनी फिल्म की शुरुआत 1958 में सिडनी लुमेट द्वारा निर्देशित फ़िल्म “स्टेज स्ट्रक” से की। अगले वर्ष, उन्होंने इस फ़िल्म के लिए अपना पहला ‘टोनी पुरस्कार’ प्राप्त किया। टेलीविज़न शो में अपने काम के लिए ‘एमी अवार्ड’ के लिए नामांकन हुआ। उनके करियर ने रंगमंच और पर्दे पर कई भूमिकाएँ कीं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: