शुक्रवार, सितम्बर 30Digitalwomen.news

Farmers protests: One more Farmer dies at protest site at Tikri Border

टिकरी बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ एक और किसान ने की आत्महत्या, अब तक 19 की मौत

पिछले 55 दिनों से कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों कि लगातार मौतें जारी है। अब तक इस कानून के विरोध में 19 किसानों ने अपनी जानें दी है। वहीं आज फिर से एक किसान ने इस कानून के विरोध में अपनी जान दे दी।

मंगलवार को रोहतक जिले के पाकस्मा के निवासी किसान जयभगवान राणा जिनकी उम्र 42 वर्ष थी और जो कई दिन से किसानों के टीकरी बार्डर धरने पर शामिल हो रहे थे उन्होंने मुख्य मंच के सामने जहर खा लिया। जिससे उनकी हालत तुरंत बिगड़ने लगी तो राणा को दिल्ली के संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल भेज दिया गया।

अस्पताल के लिए रवाना होने से पहले पूछा गया तो उन्होंने कहा कि समस्या ये है कि दो महीने से किसान यहां बैठे हैं। जिंदा किसानों की कोई सुनवाई नहीं हो रही, हो सकता है मरने के बाद ही कोई सुन ले। इसलिए मैंने सुसाइड करने की कोशिश की है। मैं आपसे यही रिक्वेस्ट करता हूं कि मेरा शरीर पूरा होने दो।… इतना बोलते ही जयभगवान राणा को उल्टी आने लगी जिसके बाद उन्हें तुरंत एंबुलेंस में अस्पताल रवाना कर दिया गया था, जहाँ आज उनकी मौत हो गई।

Leave a Reply

%d bloggers like this: