गुरूवार, जून 30Digitalwomen.news

फिल्म ‘तांडव की सियासत’ आई सड़कों पर, भाजपाइयों के साथ हिंदूवादी संगठन झुलसे

पिछले दिनों मैडम चीफ मिनिस्टर को लेकर बसपा और समाजवादी पार्टी के बीच सियासी विवाद थमा भी नहीं था कि एक बार फिर धार्मिक भावनाओं को भड़का दिया है । जी हां हम बात कर रहे हैं नई वेब सीरीज की फिल्म ‘तांडव’ की ।‌ सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया अभिनीत वेब सीरीज तांडव ने शुक्रवार को रिलीज होने के बाद सियासी घमासान मचा रखा है । भारतीय जनता पार्टी के नेता हिंदू संगठनों के साथ और साधु-संतों ने इस फिल्म के विरोध में सड़कों पर आकर पुतले जला रहे हैं ।‌ भाजपा नेता इस फिल्म के निर्माताओं पर भगवान राम, नारद और शिव के अपमान के आरोप लगा रहे हैं । वहीं इसे लेकर यूपी, महाराष्ट्र और दिल्ली तक विरोध शुरू हो गया है। बता दें कि रविवार को वाराणसी और अयोध्या में साधु-संतों ने तांडव के पोस्टर को आग के हवाले कर सीरीज पर रोक लगाने की मांग की । महाराष्ट्र से बीजेपी सांसद मनोज कोटक ने तांडव का विरोध किया है। उन्होंने सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को एक पत्र लिखकर सीरीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है । सांसद कोटक ने कहा है कि इस सीरीज के जरिए हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई जा रही है। वहीं महाराष्ट्र में भाजपा के वरिष्ठ नेता राम कदम ने कहा कि फिल्म तांडव में भगवान शिव का मजाक बनाने वाले हिस्से को हटाना होगा ‌। राम कदम ने कहा कि तांडव के निर्माता-निर्देशक के साथ एक्टर जीशान अयूब को हाथ जोड़कर और घुटने टेककर माफी मांगनी होगी, अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो चौक-चौराहे पर जूते मारे जाएंगे ‌। गाजियाबाद में भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने फिल्म को रोक लगाने की मांग की है। दूसरी ओर दिल्ली बीजेपी के फायर ब्रांड नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट करते हुए कहा कि ये अली अब्बास, सैफ अली खान, आरिफ, जीशान को अपने खुद के धर्म से इतनी नफरत क्यों हैं ।

सोशल मीडिया से लेकर हिंदू संगठनों को फिल्म के इस सीन में है आपत्ति—

सोशल मीडिया पर भी तांडव फिल्म को लेकर हिंदू संगठनों में जबरदस्त नाराजगी है । लोगों का कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में लोग जानबूझकर हिंदुओं और हिंदू धर्म को टारगेट कर रहे हैं। आइए आपको बताते हैं फिल्म के कौन से सीन का विरोध हो रहा है । बता दें कि तांडव के एक सीन में एक प्रोफेसर लड़की से कहता है कि जब एक छोटी जाति का आदमी एक ऊंची जाति की औरत को डेट करता है न तो वह बदला ले रहा होता है, सिर्फ उस एक औरत से। वहीं सीरीज के पहले ही एपिसोड में एक्टर जीशान अयूब अपने कॉलेज में एक नाटक कर रहे होते हैं। वे मंच पर भगवान शिव के कैरेक्टर में दिखते हैं। मंच संचालक उनसे पूछता है कि भोलेनाथ कुछ करिए। रामजी के फॉलोअर्स तो लगातार सोशल मीडिया पर बढ़ते ही जा रहे हैं। इस पर जीशान अयूब कहते हैं, क्या करूं अपनी प्रोफाइल पिक चेंज कर दूं। इस पर मंच संचालक कहता है कि इससे कुछ नहीं होगा। आप कुछ अलग करिए। फिल्म के इसी सीन को लेकर भाजपा और हिंदूवादी संगठनों में भारी आक्रोश व्याप्त है ।

Tandav Review: राजनीति दांवपेच की कहानी है वेब सीरीज “Tandav”

Leave a Reply

%d bloggers like this: