बुधवार, जुलाई 6Digitalwomen.news

नव वर्ष के पहले दिन ताजमहल का दीदार न कर पाने पर निराश सैलानी वापस लौटे

Taj Mahal is closed on New Year

इस साल नव वर्ष का पहला दिन पर्यटकों के लिए थोड़ा निराशाजनक रहा । नववर्ष मनाने के लिए ताज नगरी आगरा में देश और विदेश से हजारों पर्यटक पहुंचे हैं । यहां आने का उद्देश्य सैलानियों में विश्व प्रसिद्ध और खूबसूरत इमारत ताजमहल का दीदार करना। आज सुबह जब सैकड़ों सैलानी ताजमहल देखने के लिए पहुंचे तब उन्हें निराशा हुई । जब उन्होंने पता किया कि ताजमहल क्यों बंद है तब उन्हें बताया गया कि ताज हर शुक्रवार को बंद रहता है । इस दिन सिर्फ नमाजियों को अनुमति रहती है। उसके बाद कई दिनों से ताजमहल देखने के लिए उत्साहित सैकड़ों पर्यटकों को वापस लौटना पड़ा । अब पर्यटक 2 जनवरी शनिवार को ताज को निहार सकेंगे । आगरा के अन्य स्मारक आगरा फोर्ट सिकंदरा शुक्रवार को भी खुले रहते हैं। यहां पर्यटकों की भीड़ है । बता दें कि नव वर्ष की खुशियां मनाने की इच्छा रखने वाले सैलानी मेहताब बाग पर पहुंच गए हैं । महताब बाग से ताजमहल साफ-साफ दिखता है और यहां आकर के लोग ताज महल की यादें सहेज सकेंगे, महताब बाग से ताज की चारों मीनारें एक साथ नजर आती हैं।
बता दें कि देश के अन्य शहरों के साथ आगरा में भी आज कोहरा छाया रहा, जिसकी वजह से ताज भी धुंधला दिखाई दिया ।

नव वर्ष की पूर्व संध्या पर हजारों पर्यटकों ने ताजमहल देख फूले नहीं समाए–

नव वर्ष की पहले दिन 31 दिसंबर गुरुवार को हजारों सैलानियों ने ताजमहल देखा । उसके बाद अपने होटलों में जाकर नववर्ष के जश्न में शामिल हुए। ताजमहल देखने के बाद इन सैलानियों के चेहरे पर जबरदस्त मुस्कान छाई हुई थी । आपको बता दें कि साल के आखिरी दिन बीते सालों के मुकाबले सबसे कम पर्यटक रहे, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल के तहत टिकटों की सीमित संख्या होने के बाद भी अन्य दिनों के मुकाबले सैलानी अच्छी संख्या में आए। गुरुवार सुबह कोहरा होने के कारण पर्यटकों की संख्या कम रही, लेकिन जैसे जैसे धूप खिलती गई, सैलानियों की भीड़ बढ़ती गई। दोपहर 2 बजे के बाद ताज पर भीड़ बढ़ गई। इसी तरह आगरा किला, सिकंदरा, फतेहपुर सीकरी और महताब बाग पर सैलानियों की संख्या ज्यादा रही। मालूम हो कि ताज नगरी में हर वर्ष देश और प्रदेश से ताजमहल देखने के लिए लाखों की संख्या में सैलानी आते हैं । इसके अलावा विदेशों से आने वाले राष्ट्राध्यक्ष भी बिना ताज को निहारने आगरा आते हैं ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: