सामग्री पर जाएं

Navratri 2020 special: नवरात्रि उत्सव शुरू होते ही बाजारों में चहल-पहल हुई तेज

आखिरकार एक महीने के मलमास माह के खत्म होने के बाद शारदीय नवरात्रि उत्सव के आगमन पर एक बार फिर मंदिरों और बाजारों में खुशियां लौट आई हैं । इस बार श्राद्ध पक्ष खत्म होते ही मलमास का महीना लग गया था । बाजारों में भीड़ बढ़ने से दुकानदारों के चेहरों पर रौनक दिखाई पड़ रही है। कोरोना संकट काल के बाद पितृ पक्ष व अधिक मास के बाद दुकानदारों को भी अब बाजार के पटरी पर लौटने की उम्मीद दिखने लगी है। बता दें कि इस साल अधिकमास के कारण शारदीय नवरात्रि और दीपावली सहित सभी त्योहार पिछले साल की तुलना में देरी से मनाए जाएंगे। पंचांग के अनुसार अधिक मास होने के कारण त्योहारों में देरी आएगी। शादियों के लगन भी देरी से शुरू हो रहे हैं। शारदीय नवरात्रि की इस बार कई खास बातें हैं। यह आश्विन शुक्ल पक्ष की शारदीय नवरात्रि है। इसे शक्ति प्राप्त करने की नवरात्रि कहा जाता है। इस बार यह नवरात्रि का समापन 24 अक्टूबर को होगा। नवरात्र इस साल 8 दिन के ही होंगे। इसके बाद 25 अक्टूबर को दशहरा यानी विजय दशमी मनाई जाएगी।

इस बार नवरात्र आठ दिन के होंगे, बन रहा है विशेष संयोग—

Devi Shailputri

इस वर्ष नवरात्र आठ दिन के होंगे। दो नवरात्र एक ही दिन होंगे। इस बार नवरात्रों का एक दिन कम हो रहा है। अष्टमी और नवमी तिथियां एक ही दिन पड़ने से नवरात्र आठ दिन के ही होंगे । नवरात्र का शुभारंभ इस बार दुर्लभ संयोग के साथ होगा। इसलिए ग्रहीय दृष्टि से शारदीय नवरात्र शुभ और कल्याणकारी होगा। नवरात्र के दौरान नौ दिनों तक घरों, मंदिरों में विधिविधान से पूजन अर्चन कर भक्त मां भगवती आशीष प्राप्त करेंगे। ज्योतिषाचार्य के अनुसार इस बार के शारदीय नवरात्र पर ग्रहीय आधार पर विशेष संयोग बन रहा है। यानी 17 अक्टूबर को 58 वर्षों के बाद शनि, मकर में और गुरु, धनु राशि में रहेंगे। इससे पहले यह योग वर्ष 1962 में बना था। यह संयोग नवरात्र पर्व को कल्याणकारी बनाएगा।
नवरात्रि में नौ दिन भी व्रत रख सकते हैं और दो दिन भी। जो लोग नौ दिन व्रत रखेंगे वो लोग दशमी को पारायण करेंगे और जो लोग प्रतिपदा और अष्टमी को व्रत रखेंगे वो लोग नवमी को पारायण करेंगे। व्रत के दौरान जल और फल का सेवन करें, ज्यादा तला भुना और गरिष्ठ आहार ग्रहण न करें।

खरीदारी के लिए सभी दिन रहेंगे शुभ—

मां दुर्गा की उपासना में पूरा देश 9 दिन उत्सव मनाता है। इस साल भी लोगों का इंतजार खत्म हो गया है । मां दुर्गा इस बार घोड़े पर सवार होकर हमारे-आपके घर आ रही हैं। लोगों की मां से यही प्रार्थना है कि कोरोना की महामारी से सबको निजात मिले और जगत का कल्याण हो। नवरात्रि मां दुर्गा की उपासना का विशेष पर्व है। नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की उपासना की जाती है। इस साल शारदीय नवरात्रि के दौरान तीन सर्वार्थसिद्धि योग पड़ रहे हैं। ये शुभ योग 18 अक्टूबर, 19 अक्टूबर और 23 अक्टूबर को बन रहे हैं। 18 अक्टूबर को त्रिपुष्कर योग भी बन रहा है। इस नवरात्रि के दौरान गुरु व शनि स्वगृही रहेंगे, जो बेहद शुभ फलदायी है। इस नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के साथ-साथ दुर्गा चालीसा का पाठ करना लाभकर होगा। प्रॉपर्टी, वाहन और अन्य चीजों की खरीदारी के लिए नवरात्रि में हर दिन शुभ मुहूर्त रहेगा।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: