शनिवार, दिसम्बर 4Digitalwomen.news

Bihar Floods: बिहार में बाढ़ बनी सबसे पड़ी परेशानी

बिहार में उफनती नदियां और बाढ़ से लगभग 5 लाख से ज्यादा लोगों के जीवन को बेहाल कर दिया है। इस बार राज्य के करीब 10 से ज्यादा जिलों में स्थिति नाजुक हो चली है।
बिहार में कोशी नदी के प्रकोप के बाद अब एक और आफत ने दस्तक दे दि है। बिहार के गोपालगंज में एक ओर पुल बह गया है। यहां सारण तटबंध के टूटने से बिहार के कई नए इलाके में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। गंडक नदी पर बना बांध गोपालगंज और चंपारण दोनों तरफ टूट गया है।यह पुल गोपालगंज के बरौली प्रखंड और मांझा प्रखंड में टूटा है। 21 जुलाई को गंडक बराज वाल्मीकिनगर बराज से 4 लाख 36 हज़ार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था,जिस से उस पानी के दबाव से तटबंध ओवर फ्लो होकर टूट गया है।गंडक के दोनों किनारे पर हुई इस टूट से गोपालगंज छपरा तथा पूर्वी चंपारण के सैकड़ो गांव प्रभावित होने कि संभावना बन गई है। फिलहाल ग्रामीणों ने बांध को बचाने का पूरा प्रयास किया, लेकिन पुल को बहने से रोक न सके।
आपको बता दें कि इस से पहले गोपालगंज में गंडक नदी पर बना पुल का एक हिस्सा बह गया था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: