सामग्री पर जाएं

Madhya Pradesh Cabinet expansion: आज होगी मध्यप्रदेश मंत्रिमंडल की शपथ

कई दिनों के मंथन के बाद आज मध्यप्रदेश में आज कैबिनेट के मंत्री सुबह 11 बजे शपथ लेंगे। इस दौरान कार्यभार संभालने वाली उत्तरप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल मंत्रियों को शपथ ग्रहण करवाएंगी।

वैसे शायद आपको याद हो कि मध्यप्रदेश की राजनीतिक में फेरबदल कांग्रेस के 22 विधायकों के राज्य विधानसभा से इस्तीफा देने से हुई थी।काफी लंबे समय के अटकलों के बाद पूर्व कांग्रेस नेता ज्योति राज सिंधिया भाजपा में शामिल हो गए और इनके साथ कांग्रेस के 22 बागी विधायक ने भी कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। ये सभी सिंधिया के समर्थक माने जाते हैं और मध्यप्रदेश की राजनीति में भूचाल भी इनकी ही वजह से आयी, जिससे 5 साल के कार्यकाल के बीच में ही कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिर गई और फिर शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा ने फिर से रिकॉर्ड बना कर चौथी बार प्रदेश में अपनी सरकार बनाई।

इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस साल 23 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन के दौरान करीब एक महीने तक उन्होंने अकेले ही सरकार चलाई। 21 अप्रैल को मुख्यमंत्री चौहान ने पांच सदस्यीय मंत्रिपरिषद का गठन किया था। इसमें सिंधिया और उन्हीं के खेमे के दो मंत्री तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को भी शामिल किया गया था। 
लेकिन मंत्री मंडल के चुनाव को लेकर लगातार पार्टी के बीच अनबन सामने आ रही थी ,फिर चौहान ने अपनी राजनीति के अनुभव को दिखाते हुए आलाकमान यानी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह से दिल्ली में मुलाकात की और मंत्री मंडल के नाम के लिए चर्चा भी।वहीं प्रधानमंत्री से भी औपचारिक मुलाकात के रूप में चौहान ने दिल्ली आवास पर जाकर मुलाकात की।

भाजपा के आलाकमान ने शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल विस्तार की योजना में थोड़े बदलाव के साथ हरी झंडी दी है।
बुधवार को शाम केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से तैयार मंत्रियों की अंतिम सूची के साथ राज्य के वरिष्ठ नेता विनय सहस्त्रबुद्धे भी भोपाल पहुंच चुके हैं। माना जा रहा है कि इस सूची को गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष नड्डा की अंतिम सहमति के बाद ही तैयार किया गया है।

वहीं दूसरी ओर अब यह भी आसार लगाए जा रहे हैं कि उत्तरप्रदेश और कर्नाटका की तरह मध्यप्रदेश में भी दो डिप्टी सीएम का फॉर्मूला लागू हो सकता है।हालांकि, इसे लेकर स्थिति स्पष्ट आज ही हो पाएगी लेकिन 2 डिप्टी सीएम का फॉर्मूला मंत्री शिवराज सिंह चौहान को रास नहीं आने की भी खबरें आ रही है। वहीं अगर ऐसा होता है तो सिंधिया के करीबी तुलसी सिलावट और नरोत्तम मिश्रा को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है और दूसरी ओर नरोत्तम मिश्रा का कद भी मध्य प्रदेश सरकार में काफी बड़ा है,वे भाजपा के पुराने नेता भी हैं और ग्वालियर संभल प्रभाग में अच्छी पकड़ भी रखते हैं। इसके साथ ही वह कई वरिष्ठ भाजपा नेताओं के करीबी भी हैं।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: