सोमवार, अक्टूबर 3Digitalwomen.news

Manipur political crisis: BJP led government in trouble – मणिपुर में भाजपा के हाथ से खिसकी मुख्यमंत्री की कुर्सी, कांग्रेस को मिला विधायकों का समर्थन….

मणिपुर में बीजेपी पार्टी के नेता एस. सुभाषचंद्र सिंह, टी.टी. हाओकिप और सैमुअल जेंदाई भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। वहीं NCP की ओर से डिप्‍टी सीएम वाई जयकुमार सिंह, मंत्री एन कायिसी, मंत्री एल जयंत कुमार सिंह और लेतपाओ हाओकिप ने अपने पद से इस्‍तीफा दिया है और तृणमूल कांग्रेस के टी रोबिंद्रो सिंह, स्वतंत्र विधायक शाहबुद्दीन ने भी भाजपा से अपना समर्थन वापस ले लिया है।

राजनीतिक समीकरण….

आपको बता दें कि मणिपुर के 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस–28,बीजेपी–21, NPF– 4, NPP– 4, TMC– 1, LJP– 1, IND– 1 ने सीटें जीती थी ,यानी कुल मिलाकर 60 थें। लेकिन भाजपा को NPF, NPP, IND, LJP और TMC का समर्थन था इसलिए भाजपा ने मणिपुर में अपनी सरकार बना ली थी
और मुख्यमंत्री बिरेन सिंह बन गए लेकिन अब कुर्सी भाजपा के हाथ से खिसकती नजर आ रही है क्यों की
भाजपा की गठबंधन सरकार से अब NPP (4) ,TMC (1) और IND (1) ने अपना समर्थन वापस ले लिया है और भाजपा के 3 विधायकों ने भी पार्टी छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। तो अब भाजपा के पास अब पार्टी के अपने 18 विधायक ही रह गए है, ऐसे में अब एनपीएफ (4) और एलजेपी (1) को मिलकर बीजेपी 23 विधायकों के समर्थन का दावा कर सकती है।

वहीं, अब कांग्रेस के पास अब 33 विधायकों का समर्थन हो चुका है तो इनके समर्थन के साथ कांग्रेस मणिपुर में सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: