बुधवार, अक्टूबर 5Digitalwomen.news

West Bengal: Amit Shah Virtual Rally – अमित शाह कि बिहार के बाद आज बंगाल में “डिजिटल रैली”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार के बाद अब पश्चिम बंगाल में मंगलवार को भाजपा के चुनाव अभियान की शुरुआत करने वाले हैं। अमित शाह आज पश्चिम बंगाल के लिए ‘डिजिटल रैली’ करेंगे। यह रैली इसलिए भी अहम है क्योंकि अगले साल बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं। हालांकि भाजपा अभी से तैयारियों में जुट गई है। माना जा रहा है कि इस दौरान वह कोरोना वायरस महामारी से निपटने में तृणमूल कांग्रेस सरकार के कथित कुप्रबंधन और प्रवासी श्रमिक संकट का मुद्दा उठा सकते हैं।

Amit Shah Virtual Rally – अमित शाह कि बिहार के बाद आज बंगाल में “डिजिटल रैली”

भाजपा सूत्रों ने बताया कि वैसे तो यह संबोधन भाजपा के ‘आत्मनिर्भर अभियान’ का हिस्सा है लेकिन शाह के भाषण में तृणमूल कांग्रेस सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी के ‘कुप्रबंधन’, प्रवासी श्रमिक संकट और हिंसा की राजनीति जैसे मुद्दे के शामिल होने की संभावना है।

शाह अलग-अलग मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर सुबह 11 बजे भाजपा कार्यकर्ताओं और आम लोगों संग संवाद करेंगे। इस रैली में बंगाल भाजपा के सभी बड़े नेता शामिल होंगे। राज्य भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘यह रैली प्रदेश में पूरी तरह सियासी तस्वीर बदल देगी। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर यह हमारी पहली रैली है और इसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को शामिल करके हम वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी कर रहे हैं।’ 

भाजपा ने पूरी की तैयारी

भाजपा ने बिहार में वर्चुअल रैली को सफल बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी थी। रैली को वास्तविक बनाने के लिए 72 हजार बूथों पर 72 हजार एलईडी स्क्रीन लगाई गई थीं। बंगाल में भी ऐसा ही कुछ करने की तैयारी है। दिलीप घोष ने कहा कि यह रैली इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि तीन-चार महीने बाद कोई राजनीतिक बैठक हो रही है। हम इसकेे जरिए अधिक से अधिक लोगों द्वारा रैली को सुनने का रिकॉर्ड बनाने की कोशिश भी कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि ”हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं समेत लाखों लोग उनके भाषण का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के 9 साल के शासन के खिलाफ पिछले सप्ताह नौसूत्री आरोपपत्र जारी कर चुकी भाजपा ने हाल ही में सोशल मीडिया पर ‘आर नोई ममता (ममता का शासन अब और नहीं) अभियान चलाया है।”

वहीं राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा के आक्रामक प्रचार पर ख़र्च को लेकर तंज कसा है। ममता ने कहा, “इतना खर्च भाजपा ही वहन कर सकती है, हमारी पार्टी नहीं।’ ऐसी चर्चा है कि भाजपा के जवाब में ममता भी 21 जुलाई को “शहीद दिवस” नाम से वर्चुअल रैली करेंगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: