गुरूवार, दिसम्बर 9Digitalwomen.news

SpaceX Creates History: Successfully launches NASA astronauts from Kennedy Space Center

स्पेस एक्स ने रचा इतिहास, यूएस की धरती से लॉन्च हुई पहली प्राइवेट निजी यान

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने पहली बार किसी निजी कंपनी स्पेसएक्स के अंतरिक्ष यान से 2 अंतरिक्ष यात्रियों को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) पर भेजा है। इस मिशन को ‘क्रू डेमो-2’ एवं रॉकेट को ‘क्री ड्रैगन’ नाम दिया गया है।
इससे नासा के अंतरिक्ष यात्री रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले 19 घंटे में आईएसएस पहुंचेंगे। भारतीय समयानुसार शनिवार रात करीब 1 बजे रॉकेट ने कैनेडी स्पेस सेंटर से उड़ान भरी ।

https://platform.twitter.com/widgets.js

Watch NASA and SpaceX countdown coverage below

न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प मिशन की लॉन्चिंग के वक्त स्पेस सेंटर में मौजूद थे और उन्होंने लॉन्चिंग को अतुलनीय बताया है ।

21 जुलाई 2011 के बाद पहली बार अमेरिकी धरती से कोई मानव मिशन अंतरिक्ष में भेजा गया है। स्पेसक्राफ्ट की लॉन्चिग अमेरिका के सबसे भरोसेमंद रॉकेट फॉल्कन-9 से की गई।

ताजा मिली जानकारी के अनुसार क्रू ड्रैगन, फाल्कन 9 के दूसरे चरण से अलग हो गया है और रॉबर्ट बेकन एवं डगलस हर्ले अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन की तरफ बढ़ रहे हैं । अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर सेल्फ डॉकिंग सुबह 10:30 बजे होगा।

इस मिशन पर पिछले 20 साल से आईएसएस मिशन पर काम चल रहा था । नासा 2000 के दशक की शुरुआत से ही आईएसएस की मिशन पर काम कर रहा है। हालांकि, 2011 के बाद उसने इस रॉकेट से लॉन्चिंग बंद कर दी थी। जिसके बाद अमेरिका ने अपने स्पेसक्राफ्ट रूस के रॉकेटों से भेजना शुरू किया।

रूसी रॉकेट से लॉन्चिंग करने में अर्थात राकेट भेजने में खर्च लगातार बढ़ रहा था, ऐसे में अमेरिका ने स्पेसएक्स को बड़ी आर्थिक मदद देकर अंतरिक्ष मिशन के लिए मंजूरी दी। स्पेसएक्स अमेरिकी उद्योगपति एलन मस्क की कंपनी है। यह नासा के साथ मिलकर भविष्य के लिए कई अंतरिक्ष मिशन पर काम कर रही है। इस कंपनी ने 2012 में पहली बार अंतरिक्ष में अपना कैप्सूल भेजा था। स्पेसएक्स कंपनी की स्थापना 2002 में की गई थी। इसका मकसद अंतरिक्ष में ट्रांसपोर्टेशन की लागत को कम करना है। साथ ही मंगल ग्रह पर इंसानी बस्तियां बनाना भी है।
 

इससे पहले यह लॉन्चिंग 27 मई की रात को नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से होनी थी, लेकिन खराब मौसम की वजह से 17 मिनट पहले मिशन को रोक दिया गया था। नासा ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोगों से अपील की थी कि वे लॉन्चिंग को देखने के लिए बाहर न निकलें। हालांकि, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी बेटी इवांका अपने पति जेयर्ड और दोनों बच्चों के साथ उस वक़्त केनेडी स्पेस सेंटर में मौजूद थीं।

https://platform.twitter.com/widgets.js

Leave a Reply

%d bloggers like this: